कामना पूर्ति के लिए गणपति मंत्र

Shri 1008 Dandi Swami Sachchitanand Grand Procession - Highest order priest

गणपति जी का बीज मंत्र गं है।

ॐ गं गणपतये नमः - गं से युक्त मंत्र का जप करने से सभी कामनाओं की पूर्ति होती है । अपनी हर कामना पूर्ति के लिए सिध्‍द षडाक्षर गणपति मंत्र का जप आर्थिक प्रगति व समृध्दिदायक है, ऐसा अनादि काल से माना जाता है ।

ऊँ वक्रतुंडाय हुम - किसी के द्वारा अनिष्ट के लिए की गई क्रिया को नष्ट करने के लिए विविध कामनाओं की पूर्ति के लिए उच्छिष्ट गणपति की साधना करनी चाहिए । इन गणपति मंत्र का जप करते समय मुंह में लौंग, गुड़, इलायची, बताशा, तांबुल, सुपारी होना चाहिए । यह साधना अक्षय भंडार प्राप्त करने के लिए गणपति भक्‍तों व्‍दारा की जाती है ।

ऊँ हस्ति पिंथाचि लिखे स्वाहा - उच्छिष्ट गणपति की परम आराधना का मंत्र आलस्य, निराशा, कलह, विघ्न दूर करने में सर्वोपरि माना गया है। महा गणेश के विघ्नराज रूप की आराधना करते हुये इस मंत्र जप का परिणाम कलियुगी गुणों का उत्‍तम प्रतिकार है ।

ऊँ गं क्षिप्रप्रसादनाय नम: - विघ्न को दूर करने धन व आत्मबल की प्राप्ति के लिए हेरम्बं गणपति का मंत्र जप कामना पूर्ति में अति उत्‍तम माना गया है ।

ऊँ गूं नम: - रोजगार की प्राप्ति व आर्थिक समृध्दि कामना की पूर्ति के लिए लक्ष्मी विनायक मंत्र का जप करे ।

ऊँ श्री गं सौभाग्य गणपत्ये वर वरद सर्वजनं में वशमानय स्वाहा - विवाह में आने वाले दोषों को दूर करने वालों को कामना पूर्ति हेतु त्रैलोक्य मोहन गणेश मंत्र का जप करने से शीघ्र विवाह व अनुकूल जीवनसाथी की प्राप्ति होती है ।

ऊँ वक्रतुण्डेक द्रष्टाय क्लींहीं श्रीं गं गणपतये वर वरद सर्वजनं मं दशमानय स्वाहा सहित कामना पूर्ति के लिए इन गणपति मंत्रों के अतिरिक्त गणपति अथर्वशीर्ष, संकटनाशक गणेश स्त्रोत, गणेशकवच, संतान गणपति स्त्रोत, ऋणहर्ता गणपति स्त्रोत, मयूरेश स्त्रोत एवं गणेश चालीसा का पाठ करने से गणेश जी की कृपा प्राप्त होती है ।

Comments
Fri, 04/29/2011 - 07:14 — Deeapli
about my marriage
ऊँ श्री गं सौभाग्य गणपत्ये वर वरद सर्वजनं में वशमानय स्वाहा
(yeh mantra din me kitni bar karna chahiye aur iska prabhav kab meliga?
Sun, 10/03/2010 - 11:26 — sushil sharma (not verified)

Jai Shri Parasuramji,
Brahman samaj sambandhit jo karya Aap kar rahe hai
mujhe bhi mere samaj se purn lagav hai .
jankari de ve
sushil sharma
09377811534
Fri, 08/20/2010 - 03:55 — Rajani Kant Upadhyay (not verified)

ऊँ गं क्षिप्रप्रसादनाय नम:
Hi
Ganpati
Aapk charno me shsron Baar Pranam. aap sab ki manokamna poorna karen.
गणपति जी का बीज मंत्र गं है, इनसे युक्त मंत्र ऊँ-गं गणपतये नम: का जप करने से सभी कामनाओं की पूर्ति होती है ।
Sun, 07/04/2010 - 05:00 — karan singh man singh chundawat (not verified)
namskar
ganesh dada bhagwan ko mera sadar pranam.sindarli pali rajsthan
Sun, 06/06/2010 - 11:41 — gopal (not verified)

shri ganesh bhagwan ke charno me namaskar
thank you aapko pranam
Sun, 06/06/2010 - 13:45 — Ajay Tripathi

gopal ji NAMASKAR
aapaka bagvan ganes ki charan vandana sukhad va MANGAL MAY HO
Tue, 10/27/2009 - 17:25 — Partner (not verified)

Hi , That was very
Hi ,
That was very insightful .. Thank you for sharing that.
Can you also share "उच्छिष्ट गणपति स्तोत्र" ?
can you email it ?

Tags: