चाणक्य

चाणक्य विद्या पीठ के वार्षिक उत्सव

चाणक्य विद्या पीठ के वार्षिक उत्सव में शामिल होने के लिए श्री सुभाष शर्मा ने विकास उपाध्याय और अजय त्रिपाठी को आमंत्रित किया बच्चो की प्रतिभा देख प्रभावित हुए इस अवषर पर श्री श्याम बेश भी उपश्थित थे

Tags: 

ब्राह्मण

जिसने ब्राह्मण का श्राप लिया मुसीबत अपने आप लिया
चला के फरसा परशुराम, कर देता है काम तमाम
जब चले चाणक्य की बुद्धि, तो हट जाए है सब अवुधि
हमारा खाया किसी को पच सका है ?
दुर्वासा के श्राप से कोई बच सका है ..।
अपमान करने वाले का, दर्गन.. जिसने नाप लिया

Tags: 

Subscribe to RSS - चाणक्य