ज्योतिष प्रश्नोत्तरी : महिला ज्‍यातिषी श्रीमती चंद्रा पाण्डेय व्‍दारा

प्रश्र्नकर्त्‍ता अपनी जन्म तारीख, जन्म समय, जन्मस्थान एवं पता अवश्य लिखे । तभी प्रश्न का उत्तर मिल पायेगा ।

श्रीमती शशि शर्मा

प्रश्न - वर्ष 2007 कैसा रहेगा ?
उत्तर - आप धनु लग्न एवं धनु राशि की है, अभी आप गुरु महादशा में चल रही है जो कि श्रेष्ठ है वर्ष 2007 अंक ज्योतिषानुसार मंगल का वर्ष है जो कि आपके लिए पंचमेश है, साथ ही पराक्रमस्य है यह आपकी पत्रिकानुसार योगकारी है, अत: श्रेष्ठतम उपलब्धियों का वर्ष रहेगा एवं संतान पक्ष से हर्ष एवं उन्नति के समाचार प्राप्त होंगे ।

कु. नीरा दीक्षित

प्रश्न - क्या मेरी पत्रिका में मंगल दोष है , यदि है तो मुझे क्या करना चाहिए ?
उत्तर - आपकी पत्रिका सिंह लग्न एवं तुला राशि की है, एवं लग्न में मंगल स्थित है, जो कि चतुर्मेश एवं भाग्येश है परंतु ज्योतिष शास्त्रानुसार 1,4,7,8,12वें भाव में मंगल की उपस्थिति पत्रिका में मांगलिक दोष उत्पन्न करती है, अत: आप विवाह से पहले कुंभ विवाह करा एवं पत्रिका मिलान कर ही विवाह करें यह सुखी वैवाहिक जीवन के लिए उपयुक्त रहेगा ।

श्री विजय शर्मा

प्रश्न - नौकरी मिलने का योग कब तक है, जहां रहता हूं वहीं मिलेगी या कहीं और जाना पड़ेगा ।
उत्तर - आप तुला लग्न एवं कूंभ राशि के हैं, वर्तमान में गुरु महादशा में गुरु की अंतर दशा चल रही है, गुरु तृतीयस्य है अत:आपको सर्विस हेतु यात्राएं तो करनी पड़ेगी या ऐसी नौकरी मिलेगी जिसमें यात्राएं करनी पड़ेगी । 27 अप्रैल 2008 से गुरु महादशा में शनि की अंतरदशा चलेगी इस समय आपको मनचाही स्थितिनुसार नौकरी मिलने के योग बनते हैं ।

श्रीमती सविता शुक्ला

प्रश्न - संतान योग कब तक प्रथम संतान पुत्र या पुत्री ?
उत्तर - आप मीन लग्न एवं मीन राशि की है, अभी आप गुरु महादशा की मंगल अंतरदशा में चल रही हैं जो कि नवम्बर 2006 तक चलेगी पत्रिकानुसार आपको इसी वर्ष पुत्र संतान प्राप्ति का योग बनता है ।

श्रीमती सीमा तिवारी

प्रश्न - मेरे स्वास्थ्य में सुधार कब होगा, जोड़ों में दर्द रहता है क्या राशि में साढ़े साती का प्रभाव है ?
उत्तर - आप कूंभ लग्न एवं कन्या राशि की है, अभी आप शनि महादशा में शनि की अंतरदशा में चल रही हैं जो कि दिसम्बर 2006 तक रहेगी आपकी राशि कन्या में शनि देव की साढ़े साती का प्रभाव नवम्बर 2006 से शुरु हुआ है, शनि देव ताम्रपद से आपकी राशि में प्रवेश किए है, इस समय बहुत संघर्ष मेहनत एवं स्वास्थ्य कष्ट भी हो सकता है, अत: आप शनिदेव का व्रत, पूजन अनुष्ठान करें एवं सवा लक्ष मंत्रों का जाप कराएं पूरी शनि महादशा के दौरान आपको ङ्ग ज्ञलद्म यह अनुष्ठान कराना बेहतर रहेगा साथ ही देवगुरु बृहस्पति का भी पूजन अनुष्ठान कराएं एवं मधुमेह रोगी की जांच व बचाव के उपाय करें शुभ मुहुर्त में 0.25 सेंट का एक हीरा नग धारण करें एवं शिव आराधना करना उपयुक्त रहेगा ।

कु. शीला

प्रश्न - पढ़ाई में सफलता प्राप्त करना चाहती हूं कौन सा रत्न धारण करुं
उत्तर - आप लग्न एवं तुला राशि की हैं, अभी आप चंद्र महादशा की राहू अंतरदशा में चल रही हैं जो कि मार्च 2008 तक रहेगी इस कारण पढ़ाई में मन नहीं लगता है मानसिक भ्रम की स्थिति में रहती है । अत: आप कैरेट एवं 6 कैरेट का मोती चांदी में क्रमश: अनामिका एवं कनिष्ठा अंगुली में शुभ मुहुर्त में धारण करें एवं श्री राहु जी सवा लाख मंत्रों से शांति जाप अनुष्ठान कराएं, सफेद वस्त्र जयादा धारण करें तो बेहतर रहेगा ।

दीप्ति

प्रश्न - विवाह हेतु प्रस्ताव आते हैं परंतु कहीं भी बात नहीं जमती क्या बात हैं मैं क्या करुं? 6
उत्तर - आप कर्क मीन लग्न एवं मेष राशि की है सप्तमेश पापकत्तरी योग से पड़ा हुआ है, अत: आप किसी विद्वान पंडित से शुभ मुहुर्त में कुंभ विवाह करवाइए । मंगल राहू एवं केतु का जाप अनुष्ठान करवाएं एवं शुभ मुहुर्त में दाहिने हाथ की कनिष्ठा में 4 कैरेट का मूंगा पन्ना नग चांदी में जड़वा कर धारण करें । शिव पार्वती का पूजन करें एवं मंगला गौरी का व्रत धारण करें शिवकृपा से मनमाफिक योग्य वर की प्राप्ति संभव है ।

श्रीमती चंद्रा पाण्डेय
(पाण्डेय एंड त्रिपाठी एसोसिएट्स) जे-15,
श्रीरामनगर टी.वी. टॉवर के पास, शंकरनगर, रायपुर
फोन :0771-2282152 मो.98932-55383

विनय पाण्डे

प्रश्न - नौकरी में हालात ठीक नहीं है ? यह कब तक रहेगा दूसरी नौकरी कब मिलेगी ?
उत्तर - आप धनु लग्न एवं मकर राशि के है, अभी आप वर्तमान में गुरु महादशा के राहू अंतरदशा में चल रहे हैं, साथ ही शनि देव की अढ़ैय्या भी आपकी राशि में चल रही है । अत: नौकरी में मानसिक परेशानी उतार-चढ़ाव ढ़ाई सालों तक आते रहेंगे । म0 जनवरी म00म से म माह हेतु कुछ शांति महसूस करेगें फिर परेशानी का अनुभव होगा, आपकी पत्रिका में कालसर्प योग भी है अत: कालसर्प योग का अनुष्ठान कराएं एवं राहु का सवा लाख जाप अनुष्ठान कराएं । शिव कृपा होने पर परेशानी दूर होगी । ढ़ाई साल बाद दूसरी नौकरी मिलने के योग बनते है ं।

सुधा मिश्रा

प्रश्न - पति का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता, डर लगा रहता है क्या करुं ?
उत्तर - आपकी पत्रिका मेष लग्न एवं मीन राशि की है, अभी वर्तमान मेंं आप मंगल महादशा में चल रही है । सप्तमेश शुक्र रोग स्थान में गुरु से युत है, अत: पति का स्वास्थ्य हमेशा थोड़ा बहुत खराब चलता रहेगा, आप शुक्रवार का व्रत करें, आपकी पत्रिका में कालसर्प योग बना है, सप्तमेश शुक्र केतु से पीड़ित है, अत: आप कालसर्प अनुष्ठान कराएं, शिव कृपा प्राप्त करें ।

नीता दीक्षित

प्रश्न - द्वितीय संतान पुत्र होगा या पुत्री ?
उत्तर - आप वृश्चिक लग्न एवं तुला राशि की है, अभी आप शनि महादशा के शनि अंतर दशा में चल रही है आपके पति धनु लग्न एवं धनु राशि के है, जो कि शुक्र महादशा में चंद्र की अंतरदशा में चल रहे हैं, आप को द्वितीय संतान पुत्री होने की संभावना ज्यादा बनती है । साथ ही इस दौरान आपको अपने स्वास्थ्य का बहुत ज्यादा ख्याल रखना पड़ेगा ।

राहुल

प्रश्न - पढ़ाई में मन नहीं लगता क्या करुं ?
उत्तर - आप मीन लग्न एवं कर्क राशि के हैं, अभी आप चंद्र महादशा के चंद्र अंतर दशा में चल रहे हैं इस कारण आपकी मानसिक स्थिरता में कमी आ गई है, पूर्णिमा का व्रत करें एवं इसी दिन चंद्रोदय होने पर चंद्रमा की पूजा करें । एक मोती नग धारण करें शुभ मुहुर्त में ।

Tags: