परशुराम जयंती पर म.प्र. में अवकाश

परशुराम जयंती पर म.प्र.में अवकाश घोषित समाज में हर्ष-इंदौर । सर्वब्राह्मण एकता अभियान से जुड़े कार्यकर्ता पूरे प्रदेश का दौरा कर ब्राह्मणों को एकजुट करने की कोशिश में जुटे हैं । अभियान के प्रदेश संयोजक विकास अवस्थी ने बताया कि सात सूत्रीय मांगों को लेकर 15 अप्रैल को सुबह 10 बज हर तहसील और जिला मुख्यालय पर ब्राह्मण समाज के पदाधिकारी मुख्यमंत्री के नाम अधिकारियों को ज्ञापन देंगे । ज्ञापन में भगवान परशुराम की जयंती पर पूर्ण सरकारी अवकाश घोषित करने आर्थिक रूप से कमजोर ब्राह्मण बंधुओं को सरकारी नौकरी में 5 प्रतिशत आरक्षण देने परशुराम जन्म स्थली जानापाव का संपूर्ण विकास शीघ्र करने, जानापाव तीर्थ स्थल के संचालन ट्रस्ट में केवल ब्राह्मणों को ही रखने, समस्त सरकारी मंदिरों के पुजारियो का मानदेय बढ़ाकर 2100 रूपये करने, प्रत्येक जिले में ब्राह्मण समाज को धर्मशाला हेतु जमीन देने और सवर्ण आयोग गठित करने की मांग होगी।
इन मांगोंके परिप्रेक्ष्य में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज चौहान को सर्व ब्राह्मण समाज के प्रतिनिधि मंडल ने विगत दिनों एक ज्ञापन सौंपा जिसमें परशुराम जयंती (अक्षय तृतीया) पर मुख्यमंत्री द्वारा शासकीय अवकाश की घोषणा की गई है। सर्व ब्राह्मण एकता अभियान के प्रदेश संयोजक विकास अवस्थी ने बताया कि अभियान के अंतर्गत परशुराम जयंती पर सार्वजनिक अवकाश सहित सात प्रमुख मांगों को लेकर प्रदेश के 33 जिलो एवं 19 प्रमुख तहसीलों में ब्राह्मण संगठनो ंद्वारा 15 अप्रैल को एक ही दिन एक ही समय मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिए गए थे । इसी क्रम में प्रदेश के प्रमुख जिलों के ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ जन विष्णु प्रसाद शुक्ला एवं रमेश शर्मा के नेतृत्व में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलकर सात सूत्रीय मांगों का ज्ञापन सौंपा ।
मुख्यमंत्री ने सहृदयता का परिचय देते हुए तत्काल ब्राह्मण समाज की प्रमुख मांग परशुराम जयंती पर शासकीय अवकाश की घोषणा की । साथ ही जाना पाव के विकास एवं ट्रस्ट के गठन पर भी सकारात्मक कदम उठाने का आवश्वासन दिया । मुख्यमंत्री के घोषणा के बाद उपस्थित ब्राह्मण जन ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए उन्हें भगवान परशुराम की प्रतिमा भेंट की । इस अवसर पर संस्कृति मंत्री लक्ष्मीनारायण शर्मा, गो संवर्धन बोर्ड के अध्यक्ष शिवजी चौबे एवं विधायक विश्वास सारंग, कमलाकर चतुर्वेदी विशेष रूप से उपस्थित थे । सर्व ब्राह्मण युवा परिषद के अध्यक्ष अनूप शुक्ला के नेतृत्व में राजवाड़ा पर आतिशबाजी कर मिठाई वितरण कर घोषणा पर हर्ष व्यक्त किया गया।
ब्राह्मण समाज की 7 सूत्रीय माँगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन इंदौर के अतिरिक्त कलेक्टर को सौंपा गया। उपस्थित हैं समाज के वरिष्ठ पं. प्रकाश व्यास, पं. रामहरि शर्मा, पं. कैलाश पाराशर, पं. चंद्रमोहन दुबे, पं. योगेंद्र महंत, पं. महेश शर्मा,पं. प्रमोद ओझा एवं पं. प्रदीप जोशी। नेतृत्व अभियान के प्रदेश संयोजक पं. विकास अवस्थी ने किया।

Tags: