प्रदीप

कवि प्रदीप - श्री रामचन्द्र दुबे

इस समय जब कवियों की बाढ़ सी आ गई है जिन्हें मंचो ंपर अपनी रचनाएं पढक़र बोलनी पड़़ती है । ऐसे मे इसी युग के एक कालजयी गीतों के रचनाकार याद आ रहे हैं। इन्होंने अंग्रेजों के शासनकाल में अप्रत्यक्ष रूप से पुरानी फिल्म किस्मत जो द्वितीय महायुद्द साठ साल पूर्व के समय रिलीज हुई थी उसका वह गीत दूर हटो ए

Tags: 

Subscribe to RSS - प्रदीप