ब्राह्मण समाज का धरना प्रदर्शन

फिरोजाबाद। परशुराम द्वार की मांग को लेकर ब्राह्मण समाज का धरना प्रदर्शन रविवार को गांधी पार्क में शुरु हो गया। नगर पालिका पर निर्माण कार्य अधर में लटकाने का आरोप लगाते विप्र समाज ने जमकर नारेबाजी की। धरना स्थल से गुजरे प्रोफेसर साहब ने रुककर इनकी बात सुनने का भी मन बनाया, लेकिन प्रोफेसर साहब को धरना स्थल पर बुलाने की जिद में बात बिगड़ गई।
गांधी पार्क में ब्राह्मण समाज ने सुबह से ही धरना प्रदर्शन शुरु कर दिया। अखिल भारतीय ब्राह्माण महासभा सहित सनातन ब्राह्माण समाज, भारतीय कल्याण महासंघ, जिला ब्राह्माण महासभा ने धरने में जोर शोर से शिरकत की। विभिन्न दलों के नेता भी इसमें शामिल हुए। पूर्वाह्न में सपा राष्ट्रीय महासचिव सांसद रामगोपाल यादव का काफिला यहां से गुजरा तो प्रोफेसर साहब ने ज्ञापन लेने का मन बनाया। उन्होने काफिला रुकवा कर सपा जिलाध्यक्ष अजीम भाई, डा.दिलीप यादव को यहां पर भेजा, लेकिन इस दौरान धरने पर बैठे विप्र समाज के लोगों ने कहा प्रोफेसर साहब धरना स्थल पर आकर ज्ञापन लें। इस जिद पर बात बिगड़ गई। सपा नेताओं ने इन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन कोई भी मानने को तैयार नहीं हुआ। इस दौरान सपा नेता योगेश गर्ग भी साथ में थे। बाद में प्रोफेसर साहब का काफिला यहां से चला गया।
इधर धरने पर विधायक मनीष असीजा ने परशुराम द्वार निर्माण के लिए किए गये अपने प्रयासों को बताया। झब्बूलाल तिवारी, प्रेमशंकर शर्मा ने कहा ब्राह्मण समाज परशुराम द्वार बनने तक चुप नहीं बैठेगा। एससी शर्मा एवं उमाकांत पचौरी, दिनेश वशिष्ठ ने कहा सभी संगठन एकजुट हैं। सिया राम शर्मा ने कहा ढांचा नहीं द्वार चाहिए। सभासद अंबेश शर्मा, सुनील मिश्रा ने कहा कि राजनीतिक दलों से हटकर समाज आंदोलन में सहयोग कर रहा है। भाजपा जिलाध्यक्ष अरविंद पचौरी, सभासद श्याम सिंह ने भी धरने को समर्थन दिया। प्रकाश चन्द्र शर्मा, अतुल चतुर्वेदी, विशन चतुर्वेदी, सुनील वशिष्ठ, रामेश्वर प्रसाद ओझा, कमल शर्मा, प्रेमशंकर शर्मा, विकास उपाध्याय, बृजेश भट्ट, चन्द्रमौली, कृष्णकांत, वैभव चतुर्वेदी, केके शर्मा, द्विजेन्द्र मोहन शर्मा, सुनील वशिष्ठ, योगेन्द्र मोहन शर्मा, पूर्णाक शर्मा, सुरेन्द्र उपाध्याय, संजय श्रोती, अनिल शर्मा, कौशल उपाध्याय, चन्द्रभान चतुर्वेदी, मोहित सारस्वत, राजवीर शर्मा, जितेन्द्र शर्मा, शशी शर्मा, बसंत शर्मा, अंकिता भारद्वाज, मनोज शुक्ला, शेखर उपाध्याय, मनोज शर्मा, बृजेश शर्मा, योगेश वशिष्ठ, कन्हैया वशिष्ठ, श्याम मोहन, सोम शर्मा, प्रहलाद शर्मा, अनुराग, मनोज, धर्मेन्द्र पांडे उपस्थित रहे।
मीडिया प्रभारी पं.प्रेमशंकर शर्मा ने कहा है विप्र समाज अब आंदोलन को थमने नहीं देगा। रविवार को प्रो.साहब ने कार में ज्ञापन देने के लिए बुलाया था, जब समाज धरना स्थल पर बैठा है तो हमने धरना स्थल पर ज्ञापन लेने आने के लिए कहा। इस पर काफिला चला गया।
लंबे आंदोलन की तैयारी
योजना बनाई जा रही है कि सोमवार से धरने को क्रमिक अनशन में बदल दिया जाए। ब्राह्मण समाज एक-एक दिन यूथ, महिला एवं अन्य संगठनों को आगे करके आंदोलन को लंबा खींचकर सफल बनाने की तैयारी में है।
सोमवार को सनातन गांधी एससी शर्मा के साथ सियाराम शर्मा, ओम प्रकाश पांडेय, चंद्रप्रकाश चतुर्वेदी, दिनेश वशिष्ठ एवं झब्बूलाल तिवारी के नेतृत्व में धरना दिया गया। धरना स्थल पर नगर पालिकाध्यक्ष राकेश दिवाकर, सपा जिलाध्यक्ष अजीम भाई, जिला उपाध्यक्ष योगेश गर्ग पहुंचे। उन लोगों से वार्ता की। उन्होंने कहा भगवान परशुराम द्वार के निर्माण की पत्रावली में कुछ अवरोध है, उसे दिखवा रहे हैं। इस पर सनातन गांधी ने कहा सभी स्थिति स्पष्ट है। आपने टेंडर के आदेश दिए थे, लेकिन टेंडर के कागज पर हस्ताक्षर नहीं किए जा रहे हैं। समाज को गुमराह करने का आरोप लगाया।
वहीं समाज के नेताओं ने द्वार निर्माण न होने पर रोष जाहिर करते हुए कहा समाज आंदोलन को तेज करने के लिए बाध्य होगा। दिनेश वशिष्ठ एवं उमाकांत पचौरी ने कहा पत्रावली पूर्ण है लिहाजा अब पालिका द्वार का निर्माण कराए। सियाराम शर्मा ने कहा यह विप्र समाज की आस्था से जुड़ा मामला है। बसंत शर्मा ने भी विचार व्यक्त किए।

Tags: