ब्राह्मण

भारतीय ब्राह्मणों को एक सूत्र में पिरोने

ajay tripathi
janvari 16 vipra varta

मै अजय त्रिपाठी भारतीय ब्राह्मणों को एक सूत्र में पिरोने उनकी समस्याएं जानने । दूर करने का चिंतन करने राष्ट्रीय स्तर पर सभी संगठनो का एक फ़ोरम बनाने की दिशा में पहले कदम के रूप में

Tags: 

कान्यकुब्ज ब्राह्मणों का परिचय सम्मेलन

अखिल भारतीय कान्यकुब्ज युवक-युवती परिचय सम्मेलन का आयोजन दिनांक 24, 25 व 26 अक्टूबर 2015 को आशीर्वाद भवन बैरन बाजार रायपुर में आयोजित किया जा रहा है। कान्यकुब्ज सभा-शिक्षा मंडल, रायपुर के अध्यक्ष वीरेन्द्र पाण्डेय, सचिव संजय अवस्थी, संयोजक - आलोक तिवारी ने बताया की कान्यकुब्ज ब्राह्मण समाज के विव

Tags: 

विप्रवार्ता का सितम्बर 15 अंक

 स्टेट बेंक,विप्र वार्ता ,vipra, vipravarta,ajay tripathi

विप्रवार्ता का सितम्बर 15 अंक प्रकाशित हुआ आपसे निवेदन है की पत्रिका के प्रकाशन में सहयोग करे अपनी सदस्यता और विज्ञापन जरुर प्रेषित करे अन्यथा पत्रिका भेजना संभव नहीं होगा सदस्यता शुल्क रुपये मात्र 251.00, के साथ 25 रुपये बेंक प्रेषण शुल्क के साथ अजय त्रिपाठी के स्टेट बेंक रायपुर अकाउन्ट नंबर 108

Tags: 

विप्रवार्ता का अगस्त अंक - सदस्यता आमंत्रित

विप्रवार्ता, VIPRAVARTA, अजय त्रिपाठी, विप्र, ब्राह्मण, brahman,

विप्रवार्ता का अगस्त 15 अंक प्रकाशित हुआ आपसे निवेदन है की पत्रिका के प्रकाशन में सहयोग करे अपनी सदस्यता और विज्ञापन जरुर प्रेषित करे अन्यथा पत्रिका भेजना संभव नहीं होगा सदस्यता शुल्क रुपये मात्र 251.00, के साथ 25 रुपये बेंक प्रेषण शुल्क के साथ अजय त्रिपाठी के स्टेट बेंक रायपुर अकाउन्ट नंबर 10822

Tags: 

समग्र विकास की कल्पना साकार करने विप्र समाज ने किया शंख वादन

परशुराम जयंती समारोह
परशुराम जयंती समारोह
परशुराम जयंती समारोह
परशुराम जयंती समारोह
परशुराम जयंती समारोह

सर्व युवा ब्राह्मण परिषद छत्तीसगढ़ अखिल भारतीय ब्राह्मण सेना, विश्व ब्राह्मण संघ छत्तीसगढ़ एवं समग्र ब्राह्मण प्रांतीय महासभा छत्तीसगढ़ एवं विप्र वार्ता परिवार के संयुक्त तत्वावधान में भगवान श्री परशुराम जयंती समारोह सप्ताह का आयोजन का शुभारंभ आज प्रात: कोटा स्थित भगवान परशुराम प्रतिमा स्थल पर पू

Tags: 

राजनीती और समाज को धर्म सम्मत चलने का कार्य ब्राह्मण का

ब्रह्मोउत्शव
ब्रह्मोउत्शव
ब्रह्मोउत्शव

रायपुर । छत्तीसगढ़ के राजनैतिक, सामाजिक परिवेश को धर्म सम्मत चलाने का कार्य ब्राह्मण को करना होगा। छत्तीसगढ़ सहित देश में सदैव ब्राह्मण अपनी इस भूमिका का निर्वाह करते रहे हैं। यह विचार आज राजिम के विधायक एवं कार्यक्रम के मुख्यअतिथि संतोष उपाध्याय ने ब्र होत्सव 2014 के अवसर पर व्यक्त किये । श्री

Tags: 

वर्ण व्यवस्था

वर्ण व्यवस्था -जन्म मूलक या कर्म मूलक-- ऋग्वेद के दसवें मण्डल के पुरूषसूक्त में शुद्र शब्द आया है इससे इस बात की पुष्टि होती है कि आज से लगभग 1500-1000 ईसा पूर्व अर्थात ऋग्वेदिक काल में वर्ण व्यवस्था का जन्म हुआ था। यह माना जाता है कि इस काल में समाज समतावादी था अर्थात समाज में छूआछूत का प्रचलन न

Tags: 

वर्तमान में ब्राह्मण नेतृत्व उसका अस्तित्व

भारतीय संस्कृति राजनीति एवं सामाजिक परिवेश प्रारंभ से ही ऋषिमुनियों एवं ब्राह्मणों से प्रभावित एवं संचालित रही है। प्राचीन काल में राजों महाराजों के सलाहकार एवं राज पुरोहित ब्राह्म वर्ग से ही हुआ करते थे.

Tags: 

एंकरिंग के लिए वाणी में मधुरता जरूरी - उमा अय्यर रावला

जन्म स्थली बंगलुरु से निकलकर भोपाल में शिक्षा-दीक्षा हासिल करने के बाद देश-विदेश में अपनी माटी की महक फैलाने वाली उमा किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं। वे अपनी प्रतिभा का लोहा देश-विदेश के तमाम मंचों पर मनवा चुकी हैं। सुरीली आवाज और सारगर्भित शदों में संबोधन का उनका अंदाज निराला है। बौद्धिक परिपक्वत

Tags: 

स्व. पद्मिनी शुक्ल बहुमुखी प्रतिभावान व्यक्तित्व

पद्मनी शुक्ल,श्यामाचरण शुक्ल,अजय त्रिपाठी,विप्रवार्ता,vipravarta,
पद्मनी शुक्ल,श्यामाचरण शुक्ल,अजय त्रिपाठी,विप्रवार्ता,vipravarta,

विश्व ब्राह्मण संघ छत्तीसगढ़, सर्व युवा ब्राह्मण परिषद छत्तीसगढ़ एवं विप्र वार्ता परिवार के संयुक्त तत्वावधान में आज स्व. पंडित श्यामाचरण जी शुक्ल की धर्मपत्नी स्व.

Tags: 

Pages

Subscribe to RSS - ब्राह्मण