महिला शिखर सम्मान समारोह

महिला शिखर सम्मान समारोह,महिला शिखर सम्मान,समारोह,महिला,शिखर सम्मान
महिला शिखर सम्मान,समारोह,महिला,शिखर सम्मान
महिला शिखर सम्मान समारोह,महिला शिखर सम्मान,समारोह,महिला,शिखर सम्मान
महिला शिखर सम्मान समारोह,महिला शिखर सम्मान,समारोह,महिला,शिखर सम्मान
महिला शिखर सम्मान समारोह,महिला शिखर सम्मान,समारोह,महिला,शिखर सम्मान
महिला शिखर सम्मान समारोह,महिला शिखर सम्मान,समारोह,महिला,शिखर सम्मान
महिला शिखर सम्मान समारोह,महिला शिखर सम्मान,समारोह,महिला,शिखर सम्मान

पुलिस, सेना, परिवहन एवं उद्द्योग जैसे क्षेत्रो में जहा महिलाये बड़ी अल्प संख्या में हुआ करती थी आज इन शेत्रो में महिलायें अपनी भूमिका अदा कर रहीं हैं यह नारी प्रधान देश आज पुनः अपनी गौरव शाली अतीत की और लोट रहा है, आज जरूरत इस बात की है की हम संघटित हो और एक होकर हर संघर्ष में एकता के साथ रहे और समाज को दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करें .यह विचार वर्ड ब्राह्मण फेडरेशन एवं सर्व युवा ब्राह्मण परिषद द्वारा आयोजित महिला शिखर सम्मान समाहरोह में आमंत्रित अतिथि महिलाओं में धमतरी नगर निगम की महापोर अर्चना चोबे संसदीय सचिव रूपकुमारी प्रथम महिला दीप्ती दुबे , डी आई .जी सोनल मिश्रा , एवं मीनाक्षी टुटेजा ने व्यक्त किया कार्यक्रम में डा स्नेहलता पाठक ने मुख्य वक्ता के रूप में संयुक्त परिवार में महिलाओं की भूमिका पर अपने विचार व्यक्त किये . अध्यक्ष अजय त्रिपाठी ने स्वागत भाषण में कहा की संस्था की ओर से आज पुरे प्रदेश से विविध क्षत्रों में सफलता प्राप्त 45 महिलाओं को चुनकर उनका सम्मान अभिनन्दन पत्र श्रीफल एवं मेडल से सम्मान किया जा रहा है यह संगठन की दृष्टि से भविष्य में मिल का पत्थर साबित होगा तथा इस अवसर पर पत्रिका भी प्रकाशित की गयी है .सयोजक अजय अवस्थी ने कार्यक्रम का संचालन किया तथा अभिनन्दन पत्र का पठन अरविन्द ओझा , अविनय दुबे , गुणनिधि मिश्रा , नमिता शर्मा , सुमन मिश्रा ,ऋचा तिवारी ,मीनाक्षी बाजपेयी,ने किया .कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रूपकुमारी चोधरी ने धर्मिक संदर्भो में महिलाओं की भूमिका को वर्तमान परिप्रेक्ष्य में प्रतिपादित किया .उन्होंने ब्राह्मणों के समाज में सम्मान पर अपने पारिवारिक सस्न्कारो का उल्लेख करते हुए कहा की ब्राह्मणों का दिशा निरेदेश समाज के लिए उपयोगी और जरूरी रहा है उनका आदर करना चाहिये .डी ई जी सोनल चौबे ने महिलाओं की हर क्षेत्र में भागीदारी की चर्चा करते हुए कहा कि महिलाएं आज आत्मनिर्भर हो रही है स्वतंत्र निर्णय ले रही है और भविष्य में उनकी महत्ता और बढेगी . इस अवसर पर अतिथियों सहित डॉ आरती पांडे,अर्चना चतुर्वेदी,रमादेवी शर्मा,डॉ गीता शर्मा,डॉ अनुराधा दुबे, सुनीता शर्मा डॉ मीनू त्रिपाठी,डॉ प्रीती सत्पथी निवेदिता मिश्र,संकुतला तिवारी,डॉ निरुपमा शर्मा डॉ इति चतुर्वेदी ,नवी मोनिका पांडे ,मिनल चोबे,प्रभा दुबे ,राधा पटाख,सुधा अवस्थी,ममता पाण्डे अनुराधा राव ,करुना तिवारी ,शिवानी मोइत्रा,आभा भट्ट,मिथिलेश रिछारिया,सावित्री बेन जोशी, दीपिका तिवारी ,उषा दुबे ,सुशीला जोशी ,शिला तिवारी,रजनी बाजपेयी ,सरिता शर्मा,आरती दुबे,अखिलेश्वरी शुक्ल ,सीमा पांडे ,निरंजना शर्मा,साधना शर्मा का सम्मान किया गया .कार्यक्रम में प्रमुख रूप से ममता शुक्ल, संजय अवस्थी,गिरजा शंकर दीक्षित,जितेन्द शुक्ल दसरथ शुक्ल,नितिन शर्मा,प्रदीप पांडे,राग्वेन्द्र पाठक सतीश शर्मा ,रेकेंद्र तिवारी,देवेश मिश्र अजय मिश्र ,प्रदीप बाजपेयी डॉ अशोक त्रिपाठी.ओ पी शर्मा,प्रमोद गौतम,सुभ्श शर्मा.व्यास पाठक ,राजेश शर्मा,रमेश पटाख राजू घनश्याम तिवारी ,सोनल शर्मा, प्रभा शर्मा .डॉ वंदना ठाकुर ,राधा तिवारी ,डॉ रीता बाजपेयी सहित प्रदेश के पदाधिकारी उपस्थित थे .

Tags: