विप्र वार्ता पहुची 100 वी पायदान पर

विप्र वार्ता 100 वा अंक सितम्बर में प्रकाशित होने जा रहा है आप सभी सादर आमंत्रित है , सभी से निवेदन की पत्रिका की उपयोगिता और उदेश्शय प्राप्ति की दिशा में बढे कदम और भविष्य में आपकी नजर में पत्रिका के स्वरूप पर अपने विचार शीघ्र आगामी अंक में प्रकाशन हेतु भेजे

Tags: