Pradhan

तुम्हारा यूं चले जाना

Late Shri Shailendra Sharma Chief Editor

सचमुच ईश्वर की इच्छा के आगे हम सब नतमस्तक हैं। इस दुनिया में जिसने जन्म लिया है उसे काल की खाई में समाना ही होगा। विधाता ने किसी की मृत्यु की तिथि देर से तय की है तो किसी की जल्दी। परन्तु मृत्यु अटल सत्य है। फिर भी हे भगवान, तूने शैलेन्द्र शर्मा को जल्दी ही अपने पास बुला लिया । शायद इसलिए कि ईश्व

Tags: 

Subscribe to RSS - Pradhan